HomeBreaking NewsFour Doctors Including Three Emos Returned To Original Posting - Mau News:...

Four Doctors Including Three Emos Returned To Original Posting – Mau News: मूल तैनाती पर लौटे तीन ईएमओ समेत चार डॉक्टर


ख़बर सुनें

डॉक्टरों की कमी से चरमराई जिला अस्पताल की चिकित्सीय सुविधा बेपटरी हो रही है। कुछ दिन पहले स्थानीय स्तर पर स्वास्थ्य विभाग की पहल से काफी हद तक यह परेशानी खत्म होने की संभावना थी, लेकिन अटैच मेंट के पेंच ने इसे फिर उलझा दिया। एडी हेल्थ के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग ने वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर दिए गए तीन ईएमओ समेत चार डाक्टरों को उसकी मूल तैनाती पर भेज दिया। ऐसे में जिस समस्या के लिए यह पहल की गई थी, वह जस की तस है।
जिला अस्पताल में डॉक्टरों की कमी से यहां उपचार कराने आने वाले मरीजों को दिक्कतों से जूझना पड़ रहा है। सबसे ज्यादा समस्या इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर और दंत रोग विभाग में एक भी चिकित्सक न होने से हो रही है। ऐसे में 29 डाक्टरों के सापेक्ष 12 चिकित्सकों में तीन चिकित्सकों को ईएमओ की ड्यूटी करनी पड़ रही है। इससे ओपीडी भी प्रभावित हो रही है, जबकि इन दिनों डेंगू, मलेरिया, बुखार सहित अन्य बीमारियों के मरीजों की भीड़ अस्पताल में उमड़ रही है। इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग ने जिला अस्पताल में शासन द्वारा ईएमओ की तैनाती न होने तक फतेहपुर मंडाव सीएचसी के डाक्टर शाहिद कमाल, काझा पीएचसी के डॉ. योगेश गिरी और कोपागंज सीएचसी के डॉ. रमेश सिंह यादव की तैनाती ईएमओ के पद पर जिला अस्पताल में कर दी।
इसमें दो चिकित्सकों ने गत दिनों कार्यभार भी संभाल लिया है। वहीं दंत रोग चिकित्सक के न होने से बंद पड़े विभाग के लिए भी घोसी सीएचसी के दंत रोग चिकित्सक डॉ. वासिफ सुभान की तैनाती की गई है। इन चार चिकित्सकों से चरमराई चिकित्सीय सुविधा से राहत मिलनी की उम्मीद थी। लेकिन अटैच मेंट होने से इसकी जानकारी होने पर स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों ने आपत्ति जताते हुए नराजगी जताई। जिसके बाद सीएमओ डॉ. नरेश अग्रवाल ने वापस अपने चारों डाक्टरों को मूल तैनाती स्थल पर भेज दिया। वहीं इस संबंध में सीएमओ डॉ. नरेश अग्रवाल ने बताया कि आला अधिकारियों के निर्देश पर डाक्टरों को मूल तैनाती स्थल पर भेज दिया गया है। जबकि इस संबंध में एडी हेल्थ ओपी तिवारी ने बताया कि सकारात्मक पहल है, लेकिन अटैच मेंट का नियम शासन द्वारा निरस्त कर दिया गया है, वहीं जिला अस्पताल में रिक्त पदों को लेकर शासन को प्रस्ताव भेजा गया है।

डॉक्टरों की कमी से चरमराई जिला अस्पताल की चिकित्सीय सुविधा बेपटरी हो रही है। कुछ दिन पहले स्थानीय स्तर पर स्वास्थ्य विभाग की पहल से काफी हद तक यह परेशानी खत्म होने की संभावना थी, लेकिन अटैच मेंट के पेंच ने इसे फिर उलझा दिया। एडी हेल्थ के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग ने वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर दिए गए तीन ईएमओ समेत चार डाक्टरों को उसकी मूल तैनाती पर भेज दिया। ऐसे में जिस समस्या के लिए यह पहल की गई थी, वह जस की तस है।

जिला अस्पताल में डॉक्टरों की कमी से यहां उपचार कराने आने वाले मरीजों को दिक्कतों से जूझना पड़ रहा है। सबसे ज्यादा समस्या इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर और दंत रोग विभाग में एक भी चिकित्सक न होने से हो रही है। ऐसे में 29 डाक्टरों के सापेक्ष 12 चिकित्सकों में तीन चिकित्सकों को ईएमओ की ड्यूटी करनी पड़ रही है। इससे ओपीडी भी प्रभावित हो रही है, जबकि इन दिनों डेंगू, मलेरिया, बुखार सहित अन्य बीमारियों के मरीजों की भीड़ अस्पताल में उमड़ रही है। इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग ने जिला अस्पताल में शासन द्वारा ईएमओ की तैनाती न होने तक फतेहपुर मंडाव सीएचसी के डाक्टर शाहिद कमाल, काझा पीएचसी के डॉ. योगेश गिरी और कोपागंज सीएचसी के डॉ. रमेश सिंह यादव की तैनाती ईएमओ के पद पर जिला अस्पताल में कर दी।

इसमें दो चिकित्सकों ने गत दिनों कार्यभार भी संभाल लिया है। वहीं दंत रोग चिकित्सक के न होने से बंद पड़े विभाग के लिए भी घोसी सीएचसी के दंत रोग चिकित्सक डॉ. वासिफ सुभान की तैनाती की गई है। इन चार चिकित्सकों से चरमराई चिकित्सीय सुविधा से राहत मिलनी की उम्मीद थी। लेकिन अटैच मेंट होने से इसकी जानकारी होने पर स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों ने आपत्ति जताते हुए नराजगी जताई। जिसके बाद सीएमओ डॉ. नरेश अग्रवाल ने वापस अपने चारों डाक्टरों को मूल तैनाती स्थल पर भेज दिया। वहीं इस संबंध में सीएमओ डॉ. नरेश अग्रवाल ने बताया कि आला अधिकारियों के निर्देश पर डाक्टरों को मूल तैनाती स्थल पर भेज दिया गया है। जबकि इस संबंध में एडी हेल्थ ओपी तिवारी ने बताया कि सकारात्मक पहल है, लेकिन अटैच मेंट का नियम शासन द्वारा निरस्त कर दिया गया है, वहीं जिला अस्पताल में रिक्त पदों को लेकर शासन को प्रस्ताव भेजा गया है।





Source link

Advertisement
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

POPULAR POST

- Advertisment -