HomeBreaking NewsCm Yogi Adityanath Distributes The Joining Letters To Staff Nurses. - सीएम...

Cm Yogi Adityanath Distributes The Joining Letters To Staff Nurses. – सीएम योगी ने 1354 स्टाफ नर्सों को दिया नियुक्ति पत्र, बोले- स्वास्थ्य सेवा को मॉडल के रूप में विकसित करें


कार्यक्रम को संबोधित करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

कार्यक्रम को संबोधित करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
– फोटो : ani

ख़बर सुनें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि स्टाफ नर्स अस्पताल की रीढ़ हैं। स्वास्थ्य सेवा को मॉडल के रूप में प्रस्तुत करें। इसकी विश्वसनीयता बढ़ाएं। प्रशिक्षण की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है। अस्पतालों की व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है। वह रविवार सुबह नर्सों के नियुक्ति पत्र विवरण समारोह को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ व अस्पताल से जुड़े अन्य कर्मचारी अपना व्यवहार ठीक करें। अस्पताल आने वाले मरीजों के साथ सद्भाव रखें। उनकी भावनाओं को समझें। यदि मरीज के प्रति स्टाफ का व्यवहार ठीक होगा तो उनकी मनोदशा बेहतर होगी और बीमारी का असर कम होगा।

ये भी पढ़ें – यूपी के बाद सपा की अन्य राज्यों में पांव जमाने की तैयारी, गुजरात में भी उतारे उम्मीदवार

ये भी पढ़ें – प्रो. विनय पाठक गायब…. एसटीएफ ने की लुकआउट नोटिस भेजने की तैयारी,  मिलने लगे कई घपलों के सुबूत

बीएससी नर्सिंग करने वालों के लिए व्यवस्था बने। वे बीएससी के बाद एमएससी करें ताकि उत्तर प्रदेश से निकलने वाली नर्स देश के हर हिस्से में अपनी प्रतिभा दिखा सकें। जीएनएम करने वाले पोस्ट बीएससी नर्सिंग के लिए आगे बढें। जहां हैं वहीं पर सीमित न रहें। भविष्य में हमें हर स्तर पर फैकल्टी की जरूरत पड़ेगी। इसके लिए अभी से तैयारी की जा रही है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने आयोग की ओर से चयनित 1354 नर्सों को नियुक्ति पत्र सौंपा।

विस्तार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि स्टाफ नर्स अस्पताल की रीढ़ हैं। स्वास्थ्य सेवा को मॉडल के रूप में प्रस्तुत करें। इसकी विश्वसनीयता बढ़ाएं। प्रशिक्षण की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है। अस्पतालों की व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है। वह रविवार सुबह नर्सों के नियुक्ति पत्र विवरण समारोह को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ व अस्पताल से जुड़े अन्य कर्मचारी अपना व्यवहार ठीक करें। अस्पताल आने वाले मरीजों के साथ सद्भाव रखें। उनकी भावनाओं को समझें। यदि मरीज के प्रति स्टाफ का व्यवहार ठीक होगा तो उनकी मनोदशा बेहतर होगी और बीमारी का असर कम होगा।

ये भी पढ़ें – यूपी के बाद सपा की अन्य राज्यों में पांव जमाने की तैयारी, गुजरात में भी उतारे उम्मीदवार

ये भी पढ़ें – प्रो. विनय पाठक गायब…. एसटीएफ ने की लुकआउट नोटिस भेजने की तैयारी,  मिलने लगे कई घपलों के सुबूत

बीएससी नर्सिंग करने वालों के लिए व्यवस्था बने। वे बीएससी के बाद एमएससी करें ताकि उत्तर प्रदेश से निकलने वाली नर्स देश के हर हिस्से में अपनी प्रतिभा दिखा सकें। जीएनएम करने वाले पोस्ट बीएससी नर्सिंग के लिए आगे बढें। जहां हैं वहीं पर सीमित न रहें। भविष्य में हमें हर स्तर पर फैकल्टी की जरूरत पड़ेगी। इसके लिए अभी से तैयारी की जा रही है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने आयोग की ओर से चयनित 1354 नर्सों को नियुक्ति पत्र सौंपा।





Source link

Advertisement
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

POPULAR POST

- Advertisment -