HomeBihar'नीतीश से मिले तो गालियां देने लगे लोग', प्रशांत किशोर ने बताया...

‘नीतीश से मिले तो गालियां देने लगे लोग’, प्रशांत किशोर ने बताया क्यों ठुकराया उत्तराधिकारी बनने का ऑफर


हाइलाइट्स

CM नीतीश से मुलाकात में हुई बातचीत का प्रशांत किशोर ने खुलासा किया.
प्रशांत किशोर ने कहा,नहीं बनना है मुझे CM नीतीश कुमार का उत्तराधिकारी.
JDU का पीके को जवाब-अपनी हैसियत पहचान लीजिए; कभी कष्ट नहीं होगा.  

पटना. बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद सीएम नीतीश कुमार और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर की जब मुलाकात हुई तो बिहार में सियासी सरगर्मी तेज हो गई थी. कयासों का दौर शुरू हो गया था कि पीके और नीतीश फिर साथ आ रहे हैं. लेकिन, अंदरखाने क्या बातें हुईं यह किसी को नहीं पता थीं. मगर अब पीके ने स्वयं ही इसका खुलासा करते हुए कहा है कि नीतीश कुमार उन्हें अपना उत्तराधिकारी बनाना चाहते थे, लेकिन उन्होंने ऑफर ठुकरा दिया.

प्रशांत किशोर ने जन सुराज यात्रा के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए बताया कि नीतीश कुमार ने उन्हें मुलाकात के दौरान यह ऑफर दिया था कि वे उनका उत्तराधिकारी बन जाएं, लेकिन मैंने इनकार कर दिया क्योंकि मुझे किसी का उत्तराधिकारी नहीं बनना है. बिहार के लोगों से जो वादा किया है, उसे पूरा करना है.

पश्चिमी चंपारण के जमुनिया स्थित जन सुराज पदयात्रा कैंप में स्थानीय लोगों से संवाद कार्यक्रम में उन्होंने तल्ख लहजे में कहा, 10-15 दिन पहले मीडिया में खबर आई थी. नीतीश जी अपने घर बुलाए थे और बोले, अरे भाई आप तो हमारे उत्तराधिकारी हैं. यह सब क्यों कर रहे हैं? आइए हमारे साथ, हमारे पार्टी के नेता बन जाइए.

पीके ने आगे बताया कि उन्होंने उनकी बातें सुनीं, और सीएम नीतीश से कहा कि बहुत लोगों ने हमको गाली लिखकर भेजा है कि क्यों इनसे मिलने गए? पीके ने बताया कि नीतीश जी से मिलने इसलिए गए थे कि मिलकर उनको ये बता सकें कि कितना भी बड़ा प्रलोभन दीजिएगा, जनता से एक बार जो वादा कर दिए हैं उससे पीछे नहीं हटेंगे. यही नहीं अब कभी भी पीछे नहीं हटने वाले हैं. उत्तराधिकारी बनाएं या कुर्सी खाली कीजिए; उससे कोई मतलब नहीं.

बता दें कि कुछ दिन पहले ही नीतीश कुमार और प्रशांत किशोर के बीच मुलाकात हुई थी. इस मीटिंग के बाद जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह में प्रशांत किशोर पर हमला बोला था. अब प्रशांत किशोर ने इसके जवाब में ही शायद अब नीतीश कुमार पर हमला तेज कर दिया है और लगातार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साध रहे हैं.

प्रशांत किशोर लगातार नीतीश कुमार को निशाने पर ले रहे हैं मगर अब इस पर नीतीश कुमार क्या बोलते हैं, यह देखना दिलचस्प होगा. लेकिन JDU प्रवक्ता अभिषेक झा ने पलटवार करते हुए कहा कि प्रशांत किशोर अपनी हैसियत पहचान लें कि उनकी क्या हैसियत है? ये अब छिपी हुई नहीं है कि वो भाजपा के एजेंट के तौर पर काम कर रहे हैं. नीतीश कुमार उन्हें अपना उत्तराधिकारी बनाएंगे? वो झूठ की खेती करते हैं.

Tags: Bihar News, Bihar politics, CM Nitish Kumar, Lalan Singh, Prashant Kishor



Source link

Advertisement
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

POPULAR POST

- Advertisment -