HomeBarabankiSchool - बाढ़ के पानी से घिरे 33 स्कूल, बंधे पर हो...

School – बाढ़ के पानी से घिरे 33 स्कूल, बंधे पर हो रहा संचालन


ख़बर सुनें

बाराबंकी। सरयू की कछार में स्थित चार ब्लॉक में 33 परिषदीय स्कूल इनदिनों बाढ़ के पानी से घिरे हुए हैं। कई स्कूलों में जहां बाढ़ का पानी भर गया है। वहीं अधिकांश तक पहुंचने के लिए रास्ते तक पानी से डूबे हैं। इसको लेकर बीएसए ने प्रधानाध्यापकों के साथ बीईओ को सुरक्षित स्थानों पर इनका संचालन कराने के साथ एहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं।
इसके बाद भी कई विद्यालयों में पानी भरा होने के बाद संचालन किया जा रहा है। जिले में वैसे तो चार ब्लॉक सूरतगंज, पूरेडलई, सिरौलीगौसपुर व रामनगर के 41 परिषदीय विद्यालयों में बाढ़ प्रभावित चिह्नित हैं।
इस बार की बाढ़ में अब तक सूरतगंज ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय कचनापुर, प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय सरसंडा, प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय हेतमापुर, प्राथमिक विद्यालय डिहुआ, अकौना, माधौपुरवा गायघाट, जमका, कंपोजिट स्कूल तेवराइनपुरवा, पूरे डलई ब्लॉक का सविलियन स्कूल मांझा, प्राथमिक विद्यालय नैपुरा, प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालय मांझारायपुर, ढ़ेमा किठूरी, व गुनौली, बसंतपुर, सिरौलीगौसपुर ब्लॉक के कंपोजिट विद्यालय सनावां, परसा, ढकवा माफी, प्राथमिक विद्यालय सरदहा, नामीपुर, तेलवारी, कोठीडीह, सिरौलीगुंग और रामनगर ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय निजामुद्दीनपुर, वाजिदपुर, प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय लहड़रा में पढ़ाई प्रभावित हो रही है।
इसमें से अधिकांश को जहां अन्य विद्यालयों व सुरक्षित स्थानों पर संचालित कराया जा रहा है। वहीं कई स्कूलों में पानी भरे होने के बाद भी कक्षाएं संचालित की जा रही हैं।
बाढ़ से प्रभावित विद्यालयों के संचालन में एहतियात बरतने के निर्देश प्रधानाध्यापक व बीईओ को दिए गए हैं। उनका संचालन बंधे के अलावा नजदीक के विद्यालयों व पंचायत घर जैसे सुरक्षित ठिकानों पर कराने के साथ पढ़ाई कराई जा रही है। कई विद्यालयों में पानी घटा है। ऐसे में साफ-सफाई व सैनिटाइजेशन के बाद उनके कक्षाओं के संचालन के निर्देश हैं।
-संतोष देव पाण्डेय, बीएसए

बाराबंकी। सरयू की कछार में स्थित चार ब्लॉक में 33 परिषदीय स्कूल इनदिनों बाढ़ के पानी से घिरे हुए हैं। कई स्कूलों में जहां बाढ़ का पानी भर गया है। वहीं अधिकांश तक पहुंचने के लिए रास्ते तक पानी से डूबे हैं। इसको लेकर बीएसए ने प्रधानाध्यापकों के साथ बीईओ को सुरक्षित स्थानों पर इनका संचालन कराने के साथ एहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं।

इसके बाद भी कई विद्यालयों में पानी भरा होने के बाद संचालन किया जा रहा है। जिले में वैसे तो चार ब्लॉक सूरतगंज, पूरेडलई, सिरौलीगौसपुर व रामनगर के 41 परिषदीय विद्यालयों में बाढ़ प्रभावित चिह्नित हैं।

इस बार की बाढ़ में अब तक सूरतगंज ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय कचनापुर, प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय सरसंडा, प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय हेतमापुर, प्राथमिक विद्यालय डिहुआ, अकौना, माधौपुरवा गायघाट, जमका, कंपोजिट स्कूल तेवराइनपुरवा, पूरे डलई ब्लॉक का सविलियन स्कूल मांझा, प्राथमिक विद्यालय नैपुरा, प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालय मांझारायपुर, ढ़ेमा किठूरी, व गुनौली, बसंतपुर, सिरौलीगौसपुर ब्लॉक के कंपोजिट विद्यालय सनावां, परसा, ढकवा माफी, प्राथमिक विद्यालय सरदहा, नामीपुर, तेलवारी, कोठीडीह, सिरौलीगुंग और रामनगर ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय निजामुद्दीनपुर, वाजिदपुर, प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय लहड़रा में पढ़ाई प्रभावित हो रही है।

इसमें से अधिकांश को जहां अन्य विद्यालयों व सुरक्षित स्थानों पर संचालित कराया जा रहा है। वहीं कई स्कूलों में पानी भरे होने के बाद भी कक्षाएं संचालित की जा रही हैं।

बाढ़ से प्रभावित विद्यालयों के संचालन में एहतियात बरतने के निर्देश प्रधानाध्यापक व बीईओ को दिए गए हैं। उनका संचालन बंधे के अलावा नजदीक के विद्यालयों व पंचायत घर जैसे सुरक्षित ठिकानों पर कराने के साथ पढ़ाई कराई जा रही है। कई विद्यालयों में पानी घटा है। ऐसे में साफ-सफाई व सैनिटाइजेशन के बाद उनके कक्षाओं के संचालन के निर्देश हैं।

-संतोष देव पाण्डेय, बीएसए



Source link

Advertisement
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

POPULAR POST

- Advertisment -